325+ BEWAFA SHAYARI IMAGES PICS PHOTO DOWNLOAD IN HINDI ENGLISH URDU

By | 26th May 2019

Here, I have shared the Bewafa Shayari Wallpaper Download Hd in Urdu, Bewafa Shayari Pic In English. In our life, we have gone through many betrayals and the cheating but still, we have to make our life comfortable. So, here the latest collections of the Bewafa Shayari Image Hd collections will give you some confidence about your life. Further, you can download the Bewafa Shayari Image Wallpaper in a single click and set it as the wallpaper. On seeing your status on the social media then everyone will feel for you.

 

तू डालता जा शराब मेरे प्याले में,
जब तक ना निकले वो मेरे खयालो से !!

 

हम बदनसीब सही पर दिल के बुरे नहीं,
तेरी बेवफाई को भी ज़िन्दगी भर याद करंगे !!

 

इरादा कत्ल का था तो सर कलम कर देते तलवार से,
क्यू इश्क़ में डाल के तुमने हर सांस पे मौत लिख दी !!

 

तुझे तो हमारी मोहब्बत ने मशहूर कर दिया बेवफ़ा,
वरना तू सुर्खियों में रहे तेरी इतनी औकात नहीं !!

 

नफरत सी क्यों होती है इस ज़माने से हमको,
मोहब्बत में तो उम्मीद किसी एक से ही की थी !!

 

सिर्फ एक ही बात सीखी है इन हुस्न वालों से हमने,
हसीन जिसकी जितनी अदा है वो उतना ही बेवफा है !!

 

जैसे बयान से मुकर जाए कोई गवाह,
बस इतने से बेवफा थे वो !!

 

भुला देंगे तुझे जरा सबर तो कीजिये,
आपकी तरहा मतलबी होने में थोडा वक्त लगेगा !!

 

‎मतलब‬ निकल जाने पर ‪‎पलट‬ के देखा भी नहीं,
रिश्ता उनकी ‪नज़र‬ में कल का ‪अखबार‬ हो गया !!

 

तेरा इश्क भी बिहार के चुनाव जैसा था पगली,
हवा इधर की थी रुझान उधर का निकला !!

 

कया हुआ जो जिन्दगी बर्बाद कर दी,
जीना भी तो उसी ने ही सिखाया था कभी !!

 

ले लो वापस ये आँसू ये तड़प और ये यादें सारी,
नहीं हो तुम अगर मेरे तो फिर ये सजाएँ कैसी !!

 

बहुत दर्द देती है ये मोहब्बत ऐ खुदा,
तू बेवफाओं की अलग दुनिया बना दे !!

 

तेरी तो फितरत थी सबसे मुहब्बत करने की,
हमने बेवजह ही खुद को खुशनसीब समझा !!

 

अफसोस इस बात का नहीं की बेवफाई मीली मुझ को,
अफसोस इस बात का है की तुम भी बेवफा मीली मुझ को !!

 

काश की कोई हमारा भी वफादार यार होता,
सीना‬ तान के चलते ‪बेवफाओ‬ की गलियों में !!

 

मौसम की तरह बदलते है उस के वादे,
उपर से ये ज़िद की तुम मुझ पे एतबार करो !!

 

लोग मुझसे सिर्फ नफ़रत ही कर सकते है क्यूंकि,
प्यार मैं जिससे बेशुमार करती थी, वफ़ा तो उसने भी नहीं की मुझसे !!

 

चलो तोड़ते है आज ज़िंदगी के सारे उसूल अपने,
अब के बरस बेवफाई और दगाबाजी दोनों हम करेंगे !!

 

वो बेवफा है तो बुरा ना कहो उसे,
किसी और से प्यार कर लो और दफ़ा करो उसे !!

 

ये उनकी मोहब्बत का नया दौर है,
जहाँ था कल तक मैं वहाँ आज कोई और है !!

 

तुझे तो प्यार कभी था ही नहीं ऐ बेवफा,
तूने तो अपनी तन्हायी दुर करने के लिये हमे तन्हा कर दिया !!

 

मोहब्बत करके क्या पाया मैंने,
वो कल मेरी थी आज किसी और की हो गई !!

 

किसी को इतना मत चाहो की भुलाना सको,
जिंदगी, इन्सान और मोहब्बत तीनो बेवफा होते है !!

 

कुछ लोग इतने गरीब होते है की,
देने के लिए कुछ नहीं होता तो धोखा दे देते है !!

 

मोहब्बत भी चाहते हो और मुक्म्म्ल वफ़ा भी,
जनाब आप तो धुंए के बादलों से बरसात माँग रहे हो !!

 

जानता था की वो धोखा देगी एक दिन पर चुप रहा,
क्यूंकि उसके धोखे में जी सकता हूँ पर उसके बिना नहीं !!

 

मेरी तलाश का है जुर्म या मेरी वफ़ा का कसूर,
जो दिल के करीब आया बही बेवफा निकला !!

 

बहुत दिन हो गऐ मोहब्बत लफ्ज सुनकर,
कल बेवफा सुना तो तुम याद आ गये !!

 

बेवफा लोग बढ़ रहे है धीरे धीरे,
एक शहर अब इनका भी होना चाहिए !!

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *